तपिश को देकर मात, उमड़ पड़ी जमात : लोकतांत्रिक आस्था के महापर्व पर उमड़ा जनसैलाब

0
313
बोकारो के एक मतदान केन्द्र पर लगी वोटरों की भीड़।  Pic : Varnan Live
Watch Video Report

Deepak Kumar Jha

Bokaro.

बोकारो ः विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का सबसे बड़े पर्व चुनाव का आनंद रविवार को बोकारो जिले के निवासियों ने भी लिया। राज्य में तीसरे तरण के निर्वाचन के तहत बोकारो जिले में धनबाद तथा गिरिडीह संसदीय क्षेत्र के लिये मतदाताओं ने अपने-अपने पसंदीदा प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद कर डाली। इस बार के चुनाव में लोगों की जागरुकता को लेकर प्रशासन की कवायदें काफी हद तक रंग दिखाने वाली रहीं। अपने मतदान के जरिये लोकतंत्र को सशक्त बनाने तथा देश की नयी तकदीर व तस्वीर गढ़ने की उम्मीदों के साथ जिले के वोटरों में वोटिंग के प्रति अपार उत्साह देखा गया। लोकतांत्रिक महोत्सव के इस उमंग में प्रातः बेला से ही लोग अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर जुटने लगे। बूथों के समीप रहने वाले कई लोग मार्निंग वाक करते हुए पहुंचे तो कोई वाहनों से आये। कोई अकेला पहुंचा, तो कोई पूरे परिवार के साथ। कई महिलायें गोद में बच्चा तक साथ में लेकर उत्साह में बूथों तक जाती दिखीं, मानो वह किसी मेले में जा रही हों। मतदान शुरू होने के निर्धारित समय सात बजे से लगभग एक घंटा-डेढ़ पहले से ही लोगों की चहल-कदमी बूथों पर शुरू हो गयी, जो दिनभर जारी रही। 44 डिग्री सेल्सियस की झुलसाती गर्मी, आग उगलती सड़क और शोले बरसाते आसमान के बीच लू के थपेड़े भी लोकतंत्र के इन आस्थावीरों की आस्था को डगमगा न सके। दिनभर बम्पर वोटिंग चलती रही। अपना राष्ट्रीय नेतृत्व चुनने की खुशी में दिव्यांगता और अन्य सभी तरह की शारीरिक लाचारी को भी वोटरों ने ठेंगा दिखाते हुए जमकर मतदान किये। कोई ट्राइसाइकिल से आया, तो कोई अपनी तिपहिया स्कूटी से, तो कोई वैशाखी लेकर, सबमें गजब का उत्साह देखा गया। इधर, वोटिंग के बाद सोशल मीडिया पर मतदान की स्याही लगी उंगलियों के साथ फोटो शेयर करने का सिलसिला दिनभर चलता रहा। सबों ने फेसबुक, व्हाट्सएप और ट्विटर जैसी सोशल साइट्स के जरिये अपनी सजग नागरिकता होने का प्रमाण अपने इष्टमित्रों के साथ साझ किया।


बोकारो के एक मतदान केन्द्र पर लगी वोटरों की भीड़।  Pic : Varnan Live

शहरी बाबुओं में फिर दिखी उदासीनता

बोकारो जिले में इस बार भी शहरी इलाके के बजाय ग्रामीण वोटरों में अपेक्षाकृत अच्छी जागरुकता दिखी। चास-बोकारो के ज्यादा चंदनकियारी तथा नक्सल प्रभावित गोमिया एवं आसपास के इलाकों में ज्यादा भीड़ देखी गयी। अपराह्न तीन बजे तक प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक चंदनकियारी विधानसभा क्षेत्र में सर्वाधिक 62.5 प्रतिशत वोटिंग हुई। 62.3 प्रतिशत मतदान के साथ गोमिया दूसरे, 57.23 प्रतिशत वोटिंग के साथ बेरमो तीसरे 46.86 प्रतिशत मतदान के साथ बोकारो विधानसभा क्षेत्र चौथे स्थान पर रहा।

  • Varnan Live Report.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.