बिना दूल्हे की बारात है महागठबंधन : विनोद नारायण झा

0
206

बोकारो। बिहार सरकार के मंत्री सह बिहार विधान परिषद के सदस्य विनोद नारायण झा ने कहा कि यह चुनाव सांसद चुनने का नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री चुनने का है। देशभर की सभी संसदीय सीटों पर उम्मीदवार खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही हैं। इसके विपरीत विपक्ष की तरफ से महागठबंधन के पास प्रधानमंत्री का कोई भी एक सुनिश्चित उम्मीदवार ही नहीं है। कहा जाए तो महागठबंधन बिना दूल्हे की एक बारात है। अलग-अलग घटक दलों ने अपने-अपने प्रत्याशी घोषित किए हैं। आंध्र प्रदेश में अलग, तमिलनाडु में अलग और पश्चिम बंगाल में अलग, हर जगह अलग-अलग प्रधानमंत्री के दावेदार मिलेंगे और ऐसा अगर होता है सप्ताह के प्रत्येक दिन अलग-अलग प्रधानमंत्री बनेंगे और इतवार को राष्ट्र छुट्टी पर चला जाएगा। झा ने बोकारो में पत्रकारों से बातचीत के दौरान उक्त बातें कही।


उन्होंने कहा कि पहले जहां देश में आतंकवादी हमले होने के बाद सरकार दुश्मन देश का रोना रोती थी, वहीं अब मोदीजी की अगुवाई में हिंदुस्तान दुश्मन देश के घर में घुसकर मारता है। 40 का बदला 300 को मारकर लेता है। एक तरफ मोदी जी दुश्मन को आंख दिखाते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ महागठबंधन के युवराज आंख मरने वाले मात्र एक लफुआ हैं। उन्होंने कहा कि देश में मजबूत सरकार बनाम मजबूर सरकार की लड़ाई चल रही है और जनता मोदी के साथ देशभर में गोलबंद। 2014 में गुजरात में किए गए कार्य के आधार पर जनता ने उन्हें प्रधानमंत्री चुना था। अब पिछले पांच सालों में वह एक सोने की तरह चमकता हुआ परखे गये हैं। जनता की उम्मीदों पर वह पूरी तरह से खरा उतरे हैं। एक तरफ दुनिया भर में भारत का डंका बज रहा है, वहीं दूसरी तरफ बिजली, पानी शौचालय आदि की चिंता को भी प्रधानमंत्री मोदी ने दूर किया है।

वीडियो देखें- कैसे राहुल गांधी को बताया आंख मारने वाला लफुआ

‘भाजपा ही मैथिलों का हितैषी’


मंत्री विनोद नारायण झा ने भारतीय जनता पार्टी को मिथिला और मैथिलों का सच्चा हितैषी बताया। उन्होंने कहा कि वाजपेयीजी की सरकार ने मैथिली भाषा को अष्टम अनुसूची में दर्जा दिलाया। वर्ष 1934 में भूकंप के बाद जो मिथिला दो भागों में बंट गया था, उसे वाजपेयीजी के प्रयास से जोड़ा जा सका। उन्होंने दावा किया कि धनबाद संसदीय क्षेत्र में निवास करने वाले समस्त में मैथिलों का एकमुश्त वोट भाजपा के पक्ष में ही जाएगा। मैथिलों ने हमेशा ही राष्ट्रहित को ख्याल में रखकर अपना मतदान किया है और इस बार भी यही होने जा रहा है।मिथिलांचल से कोयलांचल की राजनीति में अपनी किस्मत आजमाने आए महागठबंधन समर्थित कांग्रेस प्रत्याशी कीर्ति झा आजाद पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास कोई भी उम्मीदवार नहीं बचा है। कीर्ति आजाद तो दरभंगा से घोषित भगोड़ा है, जो गिरगिट की तरह अपना रंग बदलते हैं। कल तक जहां वह खुद को मिथिला वासी करते थे वहीं आज खुद को झारखंडी बता रहे हैं। प्रेसवार्ता में मंत्री श्री झा के साथ मुख्य रूप से रोहितलाल सिंह, राजीव कंठ, विद्यासागर सिंह आदि मौजूद थे।

  • Varnan Live Report.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.