बोकारो से बिहार ले जाया जा रहा था ‘जहर’, ग्रामीणों ने नाकाम की योजना

0
347

बोकारो। बोकारो पुलिस ने नकली विदेशी शराब बनाकर उसे तस्करी कर बिहार में खपाने वाले एक बड़े गिरोह का खुलासा किया है। इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। साथ ही पकड़े गए दोनों अभियुक्तों की निशानदेही पर भारी मात्रा में अवैध नकली विदेशी शराब, विभिन्न ब्रांड के खाली बोतल तथा शराब बनाने के उपकरण भी बरामद किए गए हैं। बोकारो के पुलिस उपाधीक्षक (नगर) ज्ञानरंजन ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात गश्ती पार्टी के पदाधिकारी सहायक अवर निरीक्षक बाल्मीकि पाठक को सूचना मिली कि सतनपुर गांव के बागती टोला से लगभग 100 मीटर की दूरी पर एक गाड़ी में रखकर अवैध शराब ले जाया जा रहा था, जिसे ग्रामीणों ने घेर रखा है। इस बात की सूचना पर सहायक अवर निरीक्षक बाल्मीकि पाठक सशस्त्र बल के साथ उक्त स्थान पर पहुंचे। उन्होंने देखा कि 50 से 60 की संख्या में ग्रामीणों ने दो व्यक्तियों को घेरकर पकड़ रखा है। पूछताछ में इन दोनों ने अपना नाम विनोद सिंह, ग्राम- राजापाकर, जिला- वैशाली (बिहार), वर्तमान पता- जोशी कॉलोनी, थाना बोकारो स्टील सिटी तथा संतोष झा, जोशी कॉलोनी, जिला- बोकारो बताया। ये लोग बिहार के ग्राम- मिरनपुर, थाना- राघोपुर, जिला- वैशाली, वर्तमान पता- ग्राम- जेठुली, थाना- फतुहा, जिला- पटना निवासी सुभाष यादव एवं ग्राम- तुपकाडीह, थाना- जरीडीह, जिला- बोकारो निवासी राजू साव तथा अपने भगिना रंजीत कुमार, ग्राम- डगरू, थाना- महुआ, जिला- वैशाली, वर्तमान पता- सेक्टर 2बी, बोकारो स्टील सिटी, जिला- बोकारो के साथ मिलकर अवैध रूप से नकली अंग्रेजी शराब बनाकर उसे बिहार में ले जाकर बेचा करते हैं।

दोनों की निशानदेही पर सतनपुर गांव के निकट एसबेस्टस के दो कमरों की तलाशी के दौरान वहां से भारी मात्रा में अवैध नकली विदेशी शराब, विभिन्न ब्रांड की खाली बोतलें एवं शराब बनाने के उपकरण (स्टीकर, कार्क, ढक्कन आदि) बरामद किये गये। साथ ही शराब ढ़ोने में प्रयुक्त मारुति कार को भी जब्त कर लिया गया है। पुलिस ने इन दोनों व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है और इस सिलसिले में सेक्टर 12 थाना कांड संख्या- 55/19, दिनांक- 04 जून 2019, धारा- 272/273/34 भादवि एवं 47ए उत्पाद अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आमलोगों की मदद से पुलिस ने कैसे विफल की कारोबारियों की योजना, देखें वीडियो

पुलिस उपाधीक्षक के अनुसार अन्य नामजद अभियुक्तों क्रमशः रंजीत कुमार, सुभाष यादव, राजू साव तथा कार मालिक योगेंद्र प्रसाद की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। जब्त सामानों में भारी मात्रा में रॉयल स्टैग, किंग गोल्ड, ओसी ब्लू व्हिस्की की भरी व खाली बोतलें, ड्रम में रखी नकली विदेशी शराब, सिंथेटिक फूड कलर आदि शामिल हैं। छापामारी में भारी संख्या में पुलिस बल के जवान व अधिकारी भी शामिल थे।

  • Varnan Live Report. 04/06/2019
Previous articleमिथिलांचल की परंपरा को जीवंतता प्रदान कर रहा “झारखंड मिथिला मंच”
Next articleSAVE TREE, SAVE LIFE… : रेत कलाकृति बनाकर पर्यावरण-संरक्षण का संदेश
मिथिला वर्णन (Mithila Varnan) : स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता'! DAVP मान्यता-प्राप्त झारखंड-बिहार का अतिलोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक अब न्यूज-पोर्टल के अवतार में भी नियमित अपडेट रहने के लिये जुड़े रहें हमारे साथ- facebook.com/mithilavarnan twitter.com/mithila_varnan ---------------------------------------------------- 'स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता', यही है हमारा लक्ष्य। इसी उद्देश्य को लेकर वर्ष 1985 में मिथिलांचल के गर्भ-गृह जगतजननी माँ जानकी की जन्मभूमि सीतामढ़ी की कोख से निकला था आपका यह लोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक 'मिथिला वर्णन'। उन दिनों अखण्ड बिहार में इस अख़बार ने साप्ताहिक के रूप में अपनी एक अलग पहचान बनायी। कालान्तर में बिहार का विभाजन हुआ। रत्नगर्भा धरती झारखण्ड को अलग पहचान मिली। पर 'मिथिला वर्णन' न सिर्फ मिथिला और बिहार का, बल्कि झारखण्ड का भी प्रतिनिधित्व करता रहा। समय बदला, परिस्थितियां बदलीं। अन्तर सिर्फ यह हुआ कि हमारा मुख्यालय बदल गया। लेकिन एशिया महादेश में सबसे बड़े इस्पात कारखाने को अपनी गोद में समेटे झारखण्ड की धरती बोकारो इस्पात नगर से प्रकाशित यह साप्ताहिक शहर और गाँव के लोगों की आवाज बनकर आज भी 'स्वच्छ और स्वस्थ पत्रकारिता' के क्षेत्र में निरन्तर गतिशील है। संचार क्रांति के इस युग में आज यह अख़बार 'फेसबुक', 'ट्वीटर' और उसके बाद 'वेबसाइट' पर भी उपलब्ध है। हमें उम्मीद है कि अपने सुधी पाठकों और शुभेच्छुओं के सहयोग से यह अखबार आगे और भी प्रगतिशील होता रहेगा। एकबार हम अपने सहयोगियों के प्रति पुनः आभार प्रकट करते हैं, जिन्होंने हमें इस मुकाम तक पहुँचाने में अपना विशेष योगदान दिया है।

Leave a Reply