हर दिन पर्यावरण दिवस मनाने की है जरूरत : DDC

0
313

वेदान्ता इलेक्ट्रोस्टील में विश्व पर्यावरण दिवस समारोह आयोजित

संवाददाता
बोकारो :
वेदान्ता इलेक्ट्रोस्टील प्लांट में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर कम्पनी के पर्यावरण विभाग की ओर से  प्लांट के प्रांगण में पर्यावरण जागरूकता समारोह का आयोजन किया गया। इसके मुख्य अतिथि बोकारो के डीडीसी रवि रंजन मिश्रा थे। अपने संबोधन में डीडीसी श्री मिश्र ने कहा कि पर्यावरण दिवस सिर्फ एक दिन ही मनाने से विश्व का भला नहीं होगा। इसके लिए हर दिन इस पर कार्य करने की आवश्यकता है। इसे जनान्दोलन के रूप में मनाना चाहिए। आज का दिन पर्यावरण के मुद्दों के बारे में आम जनता को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है। सुरक्षित, स्वस्थ और अधिक समृद्ध भविष्य का आनन्द लेने के लिए लोगों को अपने आस-ंउचयपास के वातावरण को सुरक्षित और स्वच्छ बनाने के लिए प्रोत्साहित करना अति आवश्यक है। पर्यावरण का ध्यान रखना हमारा कर्तव्य है।

इसके पूर्व कम्पनी के उप सी.ई.ओ. पंकज मल्हान ने गुलदस्ता भेंटकर मुख्य अतिथि का स्वागत एवं सम्मान किया। उन्होंने बताया कि आज हम सब यहां विश्व पर्यावरण दिवस मनाने के लिए एकत्र हुए हैं। प्रकृति द्वारा उपहार के रूप में मूल रूप में मानव को बचाने के लिए आज के दिन सभी वर्ग के लोग सक्रिय रूप से शामिल होते हैं। पर्यावरण की स्थिति में गिरावट के वास्तविक कारणों के बारे में आम जनता को जागरूक करने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन करके राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उत्सव मनाया जाता है। हर व्यक्ति को प्रत्येक वर्ष कम से कम तीन पौधे लगाने पर जोर देना चाहिए। अभी से आप अपने कार्यस्थल एवं अपने घर के आस-ंउचयपास पौधे लगाने की शुरूआत करें। कम्पनी के एच.एस.ई. विभाग के प्रमुख संदीप आचार्या ने बताया कि विश्व पर्यावरण दिवस सन 1973 से ही मानव जीवन में स्वस्थ और हरित क्रांति पर्यावरण के महत्व के बारे में लोगों की जागरूकता बढाने तथा पर्यावरणीय मुद्दों को हल करने के लिए प्रत्येक वर्ष हर 05 जून को एक वार्षिक कार्यक्रम के रूप में मनाया जाता है।

इस अवसर पर एक दिन पूर्व आयोजित पर्यावरण प्रतियोगिता आयोजित विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम का समापन एवं धन्यवाद ज्ञापन कम्पनी के वरिष्ठ महाप्रबंधक डा. सी.पी.पाण्डेय ने किया। मौके पर पर्यावरण विभाग के डा. सिद्धार्थ पाण्डेय, संजय वर्मा, अमित कुमार, सुरक्षा विभाग के दीपक आनन्द, रनज हजारिका, सुमित कुमार, सी.एस.आर. विभाग के कौशिक गुप्ता, शंकर सुमन, एडमिन के अमर विजय सिंह के अतिरिक्त काफी संख्या में अन्य पदाधिकारी, कर्मचारी एवं ग्रामीण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन एस.आर. त्रिपाठी ने किया।

  • Varnan Live Report (05/06/19)

Previous articleबोकारो के प्रजनापन बसु को ‘NEET’ में देशभर में 72वां स्थान
Next articleवृक्ष ही पर्यावरण के रक्षक, करें इनकी रक्षा : BSL CEO
मिथिला वर्णन (Mithila Varnan) : स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता'! DAVP मान्यता-प्राप्त झारखंड-बिहार का अतिलोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक अब न्यूज-पोर्टल के अवतार में भी नियमित अपडेट रहने के लिये जुड़े रहें हमारे साथ- facebook.com/mithilavarnan twitter.com/mithila_varnan ---------------------------------------------------- 'स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता', यही है हमारा लक्ष्य। इसी उद्देश्य को लेकर वर्ष 1985 में मिथिलांचल के गर्भ-गृह जगतजननी माँ जानकी की जन्मभूमि सीतामढ़ी की कोख से निकला था आपका यह लोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक 'मिथिला वर्णन'। उन दिनों अखण्ड बिहार में इस अख़बार ने साप्ताहिक के रूप में अपनी एक अलग पहचान बनायी। कालान्तर में बिहार का विभाजन हुआ। रत्नगर्भा धरती झारखण्ड को अलग पहचान मिली। पर 'मिथिला वर्णन' न सिर्फ मिथिला और बिहार का, बल्कि झारखण्ड का भी प्रतिनिधित्व करता रहा। समय बदला, परिस्थितियां बदलीं। अन्तर सिर्फ यह हुआ कि हमारा मुख्यालय बदल गया। लेकिन एशिया महादेश में सबसे बड़े इस्पात कारखाने को अपनी गोद में समेटे झारखण्ड की धरती बोकारो इस्पात नगर से प्रकाशित यह साप्ताहिक शहर और गाँव के लोगों की आवाज बनकर आज भी 'स्वच्छ और स्वस्थ पत्रकारिता' के क्षेत्र में निरन्तर गतिशील है। संचार क्रांति के इस युग में आज यह अख़बार 'फेसबुक', 'ट्वीटर' और उसके बाद 'वेबसाइट' पर भी उपलब्ध है। हमें उम्मीद है कि अपने सुधी पाठकों और शुभेच्छुओं के सहयोग से यह अखबार आगे और भी प्रगतिशील होता रहेगा। एकबार हम अपने सहयोगियों के प्रति पुनः आभार प्रकट करते हैं, जिन्होंने हमें इस मुकाम तक पहुँचाने में अपना विशेष योगदान दिया है।

Leave a Reply