समय के अनुरूप अपने को ढालें विद्यार्थी : पीके सिंह

0
492

DPS, बोकारो ने मनाया 33वां स्थापना दिवस समारोह

संवाददाता
बोकारो।
शैक्षणिक उत्कृष्टता के लिए चर्चित दिल्ली पब्लिक स्कूल, बोकारो ने अपना 33वां स्थापना दिवस मंगलवार को भव्य सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ मनाया। विद्यालय के अश्वघोष कला क्षेत्र में आयोजित स्थापना दिवस समारोह का उद्घाटन मुख्य अतिथि बोकारो स्टील प्लांट के सीईओ पी के सिंह, विशिष्टि अतिथि बीएसएल के अधिशासी निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) सह डीपीएस बोकारो के प्रो-वाइस चेयरमैन मुकुल प्रसाद, डीपीएस बोकारो के संस्थापक प्राचार्य डाॅ एम एस त्यागी व डीपीएस बोकारो के प्राचार्य ए एस गंगवार ने संयुक्तरुप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत ‘मंगलबेला हर्षित आई अभिनंदन…’ व स्कूल गीत ‘आया है नया सवेरा ज्ञान का जहां बसेरा, भारत की आन भारत की शान डीपीएस बोकारो हमारा..’ सुनाकर अतिथियों का मन मोह लिया। मुख्य अतिथि सीईओ श्री सिंह ने डीपीएस बोकारो के शैक्षणिक उपलब्धियों की सराहना करते हुए कहा कि यह विद्यालय न सिर्फ बोकारो के लिए बल्कि पूरे झारखंड के लिए एक ब्रांडेड नाम है और इसकी ख्याति राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर है। उन्होंने बच्चों को सिर्फ अकादमिक स्तर की किताबी ज्ञान ही नहीं अपितु रचनात्मकता से परिपूर्ण गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ग्रहण करने व विश्व के बदलते परिदृश्य के अनुरुप अपने आप को ढालने का संदेश दिया। विशिष्ट अतिथि डाॅ त्यागी ने अपने संबोधन में डीपीएस बोकारो के शैक्षणिक उपलब्धियों की सराहना की और उम्मीद जताई की वर्तमान प्राचार्य ए एस गंगवार के कुशल नेतृत्व में यह विद्यालय और ऊंचाइयों को छुएगा। उन्होंने शिक्षकों व अभिभावकों से अपील की कि वे बच्चों में आदर व उत्तरदायित्व की भावना का विकास करें बाकी चीजें उनमें स्वतः आ जाएंगी। अभिभावकों से बच्चों की प्रतिभा व रुचि के अनुरुप आगे बढ़ने के लिए सहयोगी बनने की बात भी उन्होंने कही।


अपने संबोधन में श्री गंगवार ने विद्यालय की उपलब्धियों को रेखांकित किया और कहा कि विद्यालय का लक्ष्य बच्चाें को उत्कृष्ट अकादमिक शिक्षा देने के साथ ही अच्छा इंसान बनाना भी है। बच्चे विचारवान, जिज्ञासु व आत्मविश्वासी हों और उनमें जीवन मूल्यों का विकास हो इसको ध्यान में रखकर यहां बेहतर शिक्षा दी जा रही है। यह विद्यालय अपने सामाजिक दायित्वों के प्रति भी सजग है इसी क्रम में शिक्षा से वंचित वर्ग के बच्चों के लिए डीपीएस बोकारो द्वारा संचालित दीपांश शिक्षा केन्द्र 18 वर्षों से व समाज के कमजोर वर्ग की महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए स्थापित ‘कोशिश’ व्यावसायिक प्रशिक्षण केन्द्र विगत 12 वर्षों से निरंतर अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर है। 


इस अवसर पर वर्ष 2018-19 के लिए विभिन्न क्षेत्रों की उल्लेखनीय 42 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया साथ ही इस वर्ष सीबीएसई दसवीं की बोर्ड परीक्षा में उल्लेखनीय प्रदर्शन करनेवाले व सबजेक्ट टाॅपर्स तथा राज्य भर से आए आर्यभट्ट मैथमेटिक्स प्रतियोगिता के विजेताओं को मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथियों द्वारा पुरस्कृत किया गया। समारोह में छात्र-छात्राआंे ने भव्य सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सबका मन जीत लिया। इस मौके पर अतिथियों ने पत्रिका डीपीएस बोकारो की वार्षिक पत्रिका ‘डिप्स रिफ्लेकशन’ का विमोचन किया। प्रारंभ में स्वागत भाषण हेडगर्ल तिष्या विश्वनाथ व अंत मंे धन्यवाद ज्ञापन हेड ब्याॅय समृद्ध रंजन ने किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.