गजराज का आतंक, महिला व बच्ची को कुचल मारा, घरें क्षतिग्रस्त

0
369

गिरिडीह, 16 जुलाई : बगोदर थाना क्षेत्र के देवराडीह पंचायत के कोशी कंजिया गांव में सोमवार की रात्रि जंगली हाथियों ने एक महिला व बच्ची को कुचल दिया, जिससे दोनों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। मृतक बच्ची के माता पिता को घायल कर दिया जिसका ईलाज बगोदर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे किया गया। हाथियों ने उत्पात मचाते हुए तीन खपरैल मकान को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। घटना को लेेेकर गांव के लोगों मे दहशत है। मृतक महिला का नाम तुलिया देवी (61 वर्ष), पति मुंशी मांझी व अमेथी कुमारी 10 वर्ष पिता धर्मेन्द्र मालपहाडीया है। घायलों मे धर्मेन्द्र मालपहाडीया व उसकी पत्नी जगरनी देवी शामिल है।

IMG-20190716-WA0026

 

बताया जाता है कि सोमवार की अर्धरात्रि गांव मे चार हाथियों का झुंड कोशी कंजिया गांव घुस गया और जमकर आतंक मचाने लगा उसी आंतक में मुंशी मांझी के घर क्षतिग्रस्त करने लगा जिसकी आवाज सुनकर मुंशी मांझी व उसकी पत्नी तुलिया देवी जग गई और घर से भागने के क्रम में तुलिया देवी को हाथी ने कुचल दिया।वहीं मुंशी मांझी टिना लेकर भागते हुए एक टांड पहुंच कर टिना बजाने लगा, जिसके बाद हाथियो झुंड धर्मेन्द्र माल पहाडीया तम्बु की तरफ पहुंचा और तम्बु से सो रही बच्ची अमेथी कुमारी को कुचल दिया, जिससे उनकी भी मौत घटनास्थल पर हो गई जबकि उनके माता-पिता को पैर से दबाकर घायल कर दिया।घटना के बाद ग्रामीणो मे वन विभाग के प्रति काफी आक्रोश देखा गया।

IMG-20190716-WA0024

घटना की सूचना मिलते ही बगोदर के पूर्व विधायक विनोद कुमार सिंह घटनास्थल पहूंच कर वन  विभाग के अधिकारी फोन कर सूचना दिया और सूचना मिलते ही वन विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर पहूंचे और मृतक के परिजनों को तत्काल 50-50 हजार रूपये मुआवजे स्वरूप दिया।वहीं पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया । बताते चलें कि आठ माह पूर्व इसी गांव मे हाथियों के झुंंड ने कार्तिक महतो नामक व्ययक्ति को कुुुचल दिया था जिससे उनकी मौत घटना स्थल पर ही हो गई थी।जिसके बाद ही इस गांव में हाथियों के आंतक से लोगों भय का महौल बना हुआ है।

  • Varnan Live.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.