अवैध देशी शराब फैक्टरी पर फिर चला डंडा, हुआ ध्वस्त, एक गिरफ्तार

0
668
संवाददाता
गोमिया (बोकारो) : गोमिया में अवैध देशी शराब की फैक्ट्री चलाने वालों के खिलाफ लगातार गोमिया पुलिस का रुख सख्त देखा जा रहा है। बुधवार को गोमिया थाना क्षेत्र के तेनुघाट डैम के किनारे ढेंढे स्थित जमकडीह में गोमिया पुलिस व आबकारी विभाग ने संयुक्त रूप से सघन अभियान चलाकर जमकडीह में डैम के किनारे घनी झाड़ियों के बीच और कच्चे मकानों में संचालित देशी शराब की फैक्टरी ध्वस्त कर दी। इस दौरान आधा दर्जन शराब बनाने वाली भट्ठियों को ध्वस्त किया गया। पुलिस ने 200 लीटर देशी शराब व 15 क्विंटल कच्चा जावा महुआ और शराब बनाने वाले उपकरण को नष्ट किया है। जानकारी देते हुए गोमिया के थानेदार अनिल उरांव ने बताया कि एसपी बोकारो पी मुरुगन के निर्देश पर आबकारी विभाग और गोमिया पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा अभियान चलाया जा रहा है। वहीं पुलिस को बराबर गुप्त सूचना मिल रही है कि जमकडीह के कुछ संदिग्ध लोगों द्वारा डैम के किनारे घनी जंगल झाड़ियों के बीच में अवैध शराब की भट्ठियां संचालित कर देशी शराब चुलाई की जा रही हैं। इसी सूचना के आधार पर आबकारी विभाग और गोमिया पुलिस ने डैम के किनारे और कच्चे मकानों में पुलिस ने अवैध रूप से बनायी गयी शराब भठ्ठियों, ड्रमों और हांडियों में भरे जावा महुआ, देशी शराब सहित अन्य उपकरणों को भी नष्ट कर दिया।
daru bhtt2
थाना प्रभारी उरांव ने यह भी बताया कि डैम के किनारे घनी झाड़ियों में छुपाकर बनायी गयी देशी शराब की भट्छी, जमीन में गड्ढे खोदकर बड़े मिट्टी के हांडियों में 1500 किलोग्राम कच्चा जावा महुआ इकट्ठा कर छुपाकर रखा गया था, जिसे टीम ने नष्ट कर दिया है। हालांकि, पुलिस के आने की भनक लगते ही कुछ शराब कारोबारी डैम में कूदकर वहां से भाग निकले, परंतु एक शराब कारोबारी जमकडीह निवासी धनेश्वर साव के 28 वर्षीय पुत्र मुकेश साव को भागने के क्रम में डैम में उतरकर पकड़ा गया। थाना प्रभारी ने बताया कि डैम के किनारे देशी शराब के भट्ठियां का संचालन और कौन कौन करता है इसका पता पुलिस लगा रही है। पता चलते ही शराब कारोबारी के ऊपर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मौके से गिरफ्तार मुकेश साव को उत्पाद विभाग की टीम पूछताछ के लिए अपने साथ बोकारो ले गयी। मौके पर आबकारी विभाग के इंस्पेक्टर सौरभ तिवारी, सब इंस्पेक्टर अनुप कुमार, श्वेता कुमारी, एएसआई बीरेंद्र उरांव, विकास कुमार एवं होमगार्ड के जवान मौजूद थे।
– Varnan Live Report.
Previous articleवाहन समेत 17 लाख रुपए का सरिया चुराकर भागा युवक राजस्थान से गिरफ्तार, ग्राहक बन पुलिस ने दबोचा
Next articleहंगामा बन चुकी हैै चास नगर निगम की नियति, बोर्ड-मीटिंग में फिर नोंक-झोंक
मिथिला वर्णन (Mithila Varnan) : स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता'! DAVP मान्यता-प्राप्त झारखंड-बिहार का अतिलोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक अब न्यूज-पोर्टल के अवतार में भी नियमित अपडेट रहने के लिये जुड़े रहें हमारे साथ- facebook.com/mithilavarnan twitter.com/mithila_varnan ---------------------------------------------------- 'स्वच्छ पत्रकारिता, स्वस्थ पत्रकारिता', यही है हमारा लक्ष्य। इसी उद्देश्य को लेकर वर्ष 1985 में मिथिलांचल के गर्भ-गृह जगतजननी माँ जानकी की जन्मभूमि सीतामढ़ी की कोख से निकला था आपका यह लोकप्रिय हिन्दी साप्ताहिक 'मिथिला वर्णन'। उन दिनों अखण्ड बिहार में इस अख़बार ने साप्ताहिक के रूप में अपनी एक अलग पहचान बनायी। कालान्तर में बिहार का विभाजन हुआ। रत्नगर्भा धरती झारखण्ड को अलग पहचान मिली। पर 'मिथिला वर्णन' न सिर्फ मिथिला और बिहार का, बल्कि झारखण्ड का भी प्रतिनिधित्व करता रहा। समय बदला, परिस्थितियां बदलीं। अन्तर सिर्फ यह हुआ कि हमारा मुख्यालय बदल गया। लेकिन एशिया महादेश में सबसे बड़े इस्पात कारखाने को अपनी गोद में समेटे झारखण्ड की धरती बोकारो इस्पात नगर से प्रकाशित यह साप्ताहिक शहर और गाँव के लोगों की आवाज बनकर आज भी 'स्वच्छ और स्वस्थ पत्रकारिता' के क्षेत्र में निरन्तर गतिशील है। संचार क्रांति के इस युग में आज यह अख़बार 'फेसबुक', 'ट्वीटर' और उसके बाद 'वेबसाइट' पर भी उपलब्ध है। हमें उम्मीद है कि अपने सुधी पाठकों और शुभेच्छुओं के सहयोग से यह अखबार आगे और भी प्रगतिशील होता रहेगा। एकबार हम अपने सहयोगियों के प्रति पुनः आभार प्रकट करते हैं, जिन्होंने हमें इस मुकाम तक पहुँचाने में अपना विशेष योगदान दिया है।

Leave a Reply