हवाई अड्डा विस्तारीकरण के नाम पर दलित-आदिवासी बनाये जा रहे शिकार : मंटू

0
208

संवाददाता
बोकारो :
सेक्टर- 12 स्थित गुमला कालोनी में झामुमो बोकारो जिला छात्र मोर्चा की बैठक अध्यक्ष महेश मुंडा की अध्यक्षता में हुई। बैठक को संबोधित करते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा बोकारो महानगर अध्यक्ष मंटू यादव ने कहा कि वर्तमान रघुवर सरकार और स्थानीय विधायक ने चुनाव के अंतिम समय में केवल वैसे क्षेत्र के लोगों को प्रताड़ित करने का काम प्रारंभ किया है जो कि उनके वोटर नहीं हो सकते हैं। मंटू ने कहा कि बोकारो विधायक के दबाव में आकर प्रशासन दुंदीबाद में रहने वाले सफाई करने वाले खटाल चलाने वाले रिक्शा चलाने वाले लोगों का 1000 घर उजाड़ दिया गया। अब प्रशासन गुमला कॉलोनी को उजाड़ने की बात कह रहा है, जो कि बोकारो हवाई अड्डे से कहीं भी संपर्क में नहीं है और न ही उसकी चारदीवारी के आसपास कोई भी आदमी बसा हुआ है। इससे साफ जाहिर है कि विधायक चुनाव जीतने के लिए गरीब और आदिवासियों को शहर से भगाना चाहते हैं। कम से कम प्रशासन के अधिकारियों को इस बात का ध्यान देना चाहिए कि एक और आप गरीबों को आवास देने की बात कर रहे हैं और दूसरी तरफ लोगों को उजाड़ रहे हैं, यह कैसा न्याय है। वह भी उस वर्ग के लिए जो घरों से मेला साफ करके अपना पेट चलाता है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में केवल भ्रष्टाचार और भ्रष्ट तत्वों को संरक्षण मिल रहा है। रोजी-रोटी के लिए सड़क पर काम करने वालों को यह सरकार लाठी-गोली के बल पर उनकी आवाज दबाने में लगी हुई है। मंटू यादव ने कहा कि विधायक को गरीबों के ऊपर थोड़ी सी भी दया है तो राज्य सरकार से 20 एकड़ जमीन लेकर तमाम उजाड़े गए गरीबों को अस्थायी तौर पर बसा दें। बड़ी-बड़ी कंपनियों को सरकारी जमीन देकर बसाया जा रहा है तो बोकारो के इन गरीबों को क्यों नहीं? मौके पर डीसी गोहाईं, बीके चौधरी, योगो पूर्ति, अजय हेंब्रम, अशोक सोरेन, मिथुन मंडल, वीरेंद्र यादव, गोपाल हांसदा, बंधना तिर्की फ्लोरेंस, रुबिना तिग्गा, अजीत टोप्पो, शिवम बारला, मैरी बारला आदि मौजूद थे।

  • Varnan Live.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.