कोरोना का असर… पहली बार नहीं होगा लुगुबुरु में संथालियों का जुटान, आए तो लौटा दिए जाएंगे श्रद्धालु

0
221

विशाल अग्रवाल

गोमिया (बोकारो)

ललपनिया स्थित लुगुबुरु घंटाबाड़ी धोरोमगाढ़ में 29-30 नवम्बर को संतालियों के आयोजित होने वाला दो-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय धर्म महासम्मेलन पर इस बार राजकीय महोत्सव नहीं होगा। कोविड प्रसार को देखते हुए अनुमंडल प्रशासन ने इसे स्थगित किया है। इसके बावजूद इसके लुगूबुरू पुनाय थान सरना धोरोम गाढ समिति (ट्रस्ट) मुरपा के अध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार टुडू द्वारापुनाय थान गाढ लुगू आयों गुफा में कार्तिक पूर्णिमा पर पूजा-पाठ करने की अनुमति की मांग के आलोक में बेरमो के अनुमंडल पदाधिकारी अनंत कुमार ने आदेश जारी कर इन दो दिनों में केवल समिति के सदस्यों को पूजा-अर्चना करने की अनुमति सरकार के कोविड एसओपी के अनुपालन शर्तों पर प्रदान किया है। 

अनुमंडल पदाधिकारी अनंत कुमार के आदेशानुसार लुगू बुरु घंटाबाड़ी धोरोम गाढ़ राजकीय महोत्सव को कोविड-19 की भयावहता को देखते हुए स्थगित कर दिया गया है। साथ ही विधि-व्यवस्था संधारण और कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुपालन के लिए पूजा स्थल, लुगु बाबा बिरसा द्वार, रामगढ़ चौक, एफ टाइप चौक, जीरो, पॉइंट, क्लब चौक से गेस्ट हाउस, गेस्ट हाउस के पिछला अथवा पश्चिम दक्षिण भाग में रूट लाइनिंग को लेकर दण्डाधिकारियों एवं पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है। उन्होंने कहा कोरोना काल में राजकीय महोत्सव नहीं मनाया जाएगा। सिर्फ पूजा समिति के लोग पूजा-अर्चना करेंगे। बाहर के लोग पूजा-अर्चना नहीं करेंगे। लुगूबुरु घंटाबाड़ी धरमगढ़ व लुगू बाबा पर्वतधाम में विभिन्न प्रखंडों, जिले व अन्य राज्यों सहित देश-विदेश से आकर भीड़ लगाने पर भी पाबंदी लगाई गई है। इस स्थल पर धारा 144 लगाई जाएगी, ताकि भीड़ ना हो। चिकित्सा व्यवस्था के मद्देनजर सिविल सर्जन, बोकारो की ओर से पूजा स्थल पर एक सक्रिय चिकित्सीय टीम के साथ सुविधायुक्त एम्बुलेंस भी रहेगा। वहीं, अग्निशमन पदाधिकारी, तेनुघाट लुगूबुरू घण्टा बाड़ी पुनायथान पूजा स्थल पर अग्निशमन यंत्र व वाहन सारी व्यवस्था के साथ उक्त दो दिवसीय पूजा उपरांत मौजूद रहेंगे।


कोरोना से बचाव के होंगे पूरे इंतजाम ः एसपी

बोकारो के एसपी चंदन कुमार झा ने कहा कि बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने पर भी प्रशासन द्वारा उन्हें रोकने सहित दूरी बनाने और कोविड के एसओपी अनुपालन की पूरी व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि अनुशासनात्मक तरीके से पूजा संपन्न होगी। इसके लिए पर्याप्त मात्रा में फेस मास्क, हैंड सैनिटाइजर सहित कोरोना से बचाव के पूर्ण इंतजामात रहेंगे।

– Varnan Live Report.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.