बांका के Cyber Criminal Gang ने उड़ाए थे चास BDO के 10 लाख रुपए, हुए गिरफ्तार

0
383
गिरफ्तार आरोपियों के साथ जानकारी देती पुलिस।
संवाददाता
बोकारो। चास बीडीओ संजय शांडिल्य के बैंक खाते से 10 लाख रुपए गायब करने वाले साइबर अपराधियों के गिरोह का उद्भेदन सेक्टर-4 पुलिस ने किया है। गिरोह के दो सरगना बिहार के बांका जिले के चांदन थाना इलाके के रहने वाले हैं। गिरफ्तार राजा मुराद और आफताब आलम भी चांदन गांव के रहने वाले हैं। पुलिस ने गुरुवार की अहले सुबह बांका पुलिस की मदद से इन दाेनाें काे घर से पकड़ा। जबकि इस गिरोह के अन्य सदस्य छापेमारी की सूचना मिलने के बाद इलाके से भाग निकले। दोनों अपराधियों को पुलिस बांका से पकड़कर बोकारो ले आई है, उनसे पुलिस पूरे मामले को लेकर पूछताछ कर रही है। बीडीओ के अकाउंट से उड़ाए गए रुपए का बंटवारा गिरोह के सभी सदस्यों ने आपस में कर लिया था। इस मामले में पुलिस को कई अन्य जानकारियां भी हाथ लगी हैं।
ठगी के रुपए से खरीदे तनिष्क के गहने
बीडीओ के अकांउट से उड़ाए गए 10 लाख रुपए में से छह लाख रुपए के आभूषण की खरीदारी अपराधी आफताब आलम ने लखनऊ के तनिष्क ज्वेलर्स से की थी। पुलिस को आफताब के मोबाइल से इसकी डिटेल हाथ लगी है। क्योंकि उसी मोबाइल से जुड़े बैंक अकाउंट से उनलोगों ने तनिष्क को पेमेंट भी किया था। इस कांड में पकड़े गये राजा मुराद के सीम का उपयोग इनलाेगांंे ने किया था। इसलिए पहले पुलिस के हाथ राजा मुराद चढ़ा। उसके बाद एक-एक कर सभी के नाम सामने आते गए।
खाता बंद होने के झांसे में आ गए थे साहब
साइबर अपराधियों ने ओयो एप से चास बीडीओ से संजय शांडिल्य से ठगी की थी। साइबर अपराधियों ने बैंक अधिकारी बन जनवरी के प्रथम सप्ताह में फोन किया और कहा कि उनका बैंक अकाउंट बंद होने वाला है। इसलिए ओयो एप डाउनलोड कर उसे भरें। उसके बाद अकाउंट काम करने लगेगा। बीडीओ ने चार दिनों में ओयो एप को डाउनलोड कर भर डाला। उसके बाद ही उनके अकाउंट से दस लाख गायब हो गए। सेक्टर-4 थाना प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद एसपी के निर्देश पर गठित टीम ने अनुसंधान शुरू किया। उसके बाद इनकी गिरफ्तारी हुई। टीम में पुलिस अवर निरीक्षकअनूप कुमार सिंह और रामाकांत गुप्ता थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.