पर्याप्त बारिश न होने से किसान हताश, बोकारो को अकालग्रस्त घोषित करने की मांग

0
331
Our Correspondent.
बोकारो। चास स्थित आर एम इंटर कॉलेज के प्रांगण में चास- चंदनक्यारी के किसानों की एक बैठक हरिप्रसाद महतो उर्फ शशि महतो की अध्यक्षता में हुई। बैठक का संचालन वरीय किसान नेता राजदेव माहथा ने की। बैठक में चास व चंदनक्यारी क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने भाग लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष व किसान नेता राजेंद्र महतो ने कहा कि पूरे जिला में वर्षा होने के कारण 80 प्रतिशत बीज सूख चुका है। जितनी बारिश हुई है, जिले के किसानों को उसका कोई भी लाभ नहीं मिल पाया। किसानों के सामने भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। पिछले 5 वर्षों से लगातार कभी अनावृष्टि तो कभी असमय बारिश और कभी सुखार की स्थिति पैदा होती रही है, जिससे किसानों की कमर टूट चुकी है और जिले के किसान त्राहिमाम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि चास, चंदनकियारी सहित संपूर्ण जिले के किसानों द्वारा फसल बीमा कराने के बाद भी किसी को बीमा राशि नहीं मिली है। वर्ष 2018 में सुखाड़ के आवेदन पत्र भरने पर किसी भी किसान को कोई सहयोग नहीं मिला। इससे किसानों में आक्रोश व्याप्त है। उन्होंने कहा कि अपनी मांगों को लेकर 1 अगस्त को मुख्यमंत्री के नाम एक पत्र बोकारो के उपायुक्त को सौंपा जाएगा, जिसमें सुखार की स्थिति को देखते हुए किसानों का कृषि ऋण वसूली बंद करने की मांग की जाएगी। बैठक में झारखंड माहथा, उपेंद्र कुमार महतो, राजेंद्र प्रमाणिक, राहुल पांडेय, रामप्रसाद, गुलाल महतो, भोलानाथ महतो, अदालत महतो, विश्वनाथ महतो, विक्रम प्रसाद सिंह, बनवाली, अखिलेश कुमार सिंह, मृत्युंजय कुमार बाउरी सहित सैकड़ों किसान मजदूर व ग्रामीण उपस्थित थे।
kisan
photo courtesy : google images
ग्रामीण मजदूर महासंघ का गठन
उक्त बैठक में जिले के किसानों के हितों की लड़ाई के लिए ग्रामीण मजदूर महासंघ का गठन किया गया, जिसके मुख्य संरक्षक राजेंद्र महतो, अध्यक्ष हरि प्रसाद महतो उर्फ शशि महतो, महामंत्री राजदेव माहथा, संरक्षक शिवनाथ प्रमाणिक, निरंजन बाउरी, उपाध्यक्ष खगेंद्र नाथ माहथा, बाबूलाल गोराई व सुखलाल महतो, संगठन सचिव सुदर्शन सिंह, सचिव भोलानाथ महतो, जवाहरलाल चौधरी, दिनेश माहथा, शिबू बाउरी व कार्तिक गोराई तथा कोषाध्यक्ष करम चंदगोप चुने गए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.