बोकारो में Flying Institute जल्द, मिली सरकारी सहमति, MLA ने की CEO से वार्ता

0
516

संवाददाता

बोकारो : बोकारो में न केवल जल्द व्यावसायिक हवाई सेवायें शुरू होने जा रही हैं, बल्कि राज्यभर के युवाओं को पायलट की ट्रेनिंग देने की व्यवस्था भी बहाल होने को है। परिवहन एवं नागरिक उड्डयन विभाग (झारखंड सरकार) के निदेशक से इसकी सहमति मिल गयी है। बोकारो हवाई अड्डा स्थित एक कमरे में इस मुद्दे को लेकर बोकारो विधायक बिरंची नारायण रविवार को बोकारो स्टील के सीईओ पीके सिंह से मिले। सरकारी सहमति के आलोक में उन्होंने सीईओ से सहयोग की मांग की। साथ ही, फ्लाइंग इंस्टीच्यूट के कार्यालय को लेकर उनसे हवाई अड्डे में एक कमरा उपलब्ध कराने का आग्रह भी किया। विधायक प्रतिनिधि संजय त्यागी के अनुसार सीईओ श्री सिंह ने सकारात्मक सहयोग का भरोसा दिलाया। त्यागी के अनुसार उक्त संदर्भ में दूरभाष से निदेशक परिवहन एवं नागरिक उड्डयन विभाग, झारखंड सरकार के निदेशक कैप्टन एसपी सिन्हा ने बोकारो विधायक बिरंची नारायण को जानकारी दी।

संजय ने बताया कि झारखंड विधानसभा बजट सत्र में 08 फरवरी, 2019 को विधायक बिरंची नारायण ने शून्यकाल के माध्यम से शीघ्र शुरू होने वाले बोकारो एयरपोर्ट में पायलट ट्रेनिंग हेतु फ्लाइंग इंस्टीच्यूट खोलने का मांग की थी। कहा था कि बोकारो में प्रारंभ होने वाले एयरपोर्ट पर हैवी ट्रैफिक की संभावना कम है। उपलब्ध संसाधन के कारण बोकारो एयरपोर्ट में पायलट ट्रेनिंग हेतु फ्लाइंग इंस्टिट्यूट शुरू करने से बोकारो सहित राज्य भर के मेधावी बच्चे पायलट की ट्रेनिंग प्राप्त कर सकते हैं।

निदेशक, परिवहन एवं नागरिक उड्डयन विभाग, झारखंड सरकार को सहमति देने के लिए विधायक ने राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास के प्रति भी आभार व्यक्त किया। कहा कि बोकारो में पायलट ट्रेनिंग के लिये फ्लाइंग इंस्टीच्यूट शुरू होने से बोकारो सहित राज्यभर के मेधावी बच्चों की ऊंची उड़ान का सपना साकार होगा।

  • Varnan Live Report.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.