गोमिया की 600 आंगनबाड़ी सेविकायें हड़ताल पर, कुपोषण-मुक्ति कार्यक्रम पर पड़ेगा असर

0
562

Vishal Agrawal

गोमिया (बोकारो) : राज्य की करीब 88, 832 आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका और पोषण सखी पिछले सप्ताह से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। इसी क्रम में गोमिया के करीब 300 आंगनबाड़ी केंद्र की लगभग 600 सेविका, सहायिका हड़ताल पर हैं। एेसे में सरकार का राष्ट्रीय कृमि-मुक्ति दिवस अभियान की सफलता चुनौती बन गयी है। कुपोषण से लड़ने वाली सैनिक आंगनबाड़ी कर्मचारी, पोषण सखी हीं अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं, जिससे यह अभियान संकट में दिख रहा है।

हड़ताल के कारण मंगलवार को आयोजित होने वाली बीएलओ की बैठक भी यहां नहीं हो सकी। गोमिया प्रखंड के आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की अध्यक्ष अनिता देवी ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मांग है कि वायदे के मुताबिक मानदेय में बढ़ोतरी की जाए। इसके साथ ही आंगनबाड़ी कर्मियों का स्थायीकरण, जनवरी 2018 में सरकार से हुए समझौते को लागू करना, मानदेय के स्थान पर वेतन, समान काम के लिए समान वेतन, रिटायरमेन्ट की उम्रसीमा 65 वर्ष करने सहित पेंशन, आकस्मिक निधन पर उनके आश्रितों को अनुकंपाधारित नियुक्ति आदि मांगें भी शामिल हैं।

  • Varnan Live Report.

प्रिय पाठक, आपके सुझाव एवं विचार हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं। आग्रह है कि नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपना मन्तव्य लिख हमें बेहतरी का अवसर प्रदान करें।

धन्यवाद!

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.