मेरी हत्या की साजिश रच रहे बोकारो विधायक : डा. प्रकाश

0
375
बोकारो। बोकारो स्टील के अधिकारी अजीत कुमार की कुछ दिनों पूर्व बोकारो विधायक द्वारा कथित तौर पर पिटाई मामले में विधायक को घेरकर पीटने की धमकी देने वाले झाविमो नेता डा. प्रकाश सिंह ने अब विधायक पर उनकी हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है।
रविवार को एक प्रेसवार्ता के दौरान झारखण्ड विकास मोर्चा के केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य डॉ. प्रकाश सिंह ने कहा- विधायक बिरंची नारायण मेरी हत्या की साजिश रच रहे है। यह इस बात से प्रमाणित होता है कि उनके निजी सहायक दीपेश कुमार निराला ने मेरे कार्यस्थल मारवाड़ी काॅलेज, रांची में एक आरटीआई लगाकर मेरे पत्राचार और स्थाई पता बताने की मांग की है। आरटीआई मांगने वाले दीपेश ने अपना पता रांची में बोकारो विधायक के आवास का पता दिया है। सिंह ने बताया कि वह अपनी आशंका को इसलिए भी सार्वजनिक कर रहे हैं कि 11.08.2019 को मोबाईल नम्बर- 09546549822 से सुबह 08.40 मिनट पर एक महिला ने खुद को चास का एसडीओ बताते हुए धमकाया कि वह उनका राजनीतिक कैरियर चौपट कर देगीं। उन्हें जनाक्रोश रैली के लिए अनुमति दी गयी थी, तो उसमें काले वस्त्र और काले गुब्बारे का प्रयोग क्यों किया गया? इस संबंध में जब डा. प्रकाश ने अपना पक्ष रखने की कोशिश की तो वह आक्रोश में आकर फिर से राजनीतिक कैरियर चौपट कर देने की धमकी देने लगीं। अगर चुनावी वर्ष में एक जिम्मेदार पदाधिकारी की ओर से ऐसी धमकी दी जाती है तो निश्चित रूप से इसकी शिकायत मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, उपायुक्त, पुलिस अधीक्षक, बोकारो के साथ-साथ राज्य के निर्वाचन आयोग को भी की जाएगी, क्योंकि ऐसे पदाधिकारी के रहने से निष्पक्ष चुनाव की उम्मीद नहीं की जा सकती हैं। डा. प्रकाश ने बताया कि वे इसकी सूचना पार्टी सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी जी को दे चुके हैं। उन्होंने आश्वस्त किया है कि वे रांची पहुंचते ही मुख्यमंत्री समेत भारत के निर्वाचन आयोग से समय लेकर इसकी लिखित सूचना देंगे उन्होंने डा. प्रकाश को निर्देश दिया कि शिकायत लिखित होने के साथ-साथ पदाधिकारियों और आयोग के ई-मेल पते पर भी भेजें। अगर इस पर किसी ने संज्ञान नहीं लिया तो राज्य के हाईकोर्ट में भी इसकी शिकायत की जाएगी।
– Varnan Live Report.
प्रिय पाठक, आप अपने सुझावों व मंतव्यों से हमें अवश्य अवगत करायें। नीचे कमेन्ट बाक्स में अपनी राय दे। आपके विचारों का स्वागत है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.